ठाकरे कैबिनेट की पहली बैठक में महाराष्ट्र को क्या-क्या मिला?

  • ठाकरे ने कहा- कोई भी आतंकित महसूस नहीं करेगा
  • कैबिनेट की बैठक में महाराष्ट्र के 6 मंत्री शामिल हुए

शिवसेना प्रमुख और गठबंधन के नेता चुने गए उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. मुंबई के शिवाजी पार्क में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. शपथ ग्रहण के बाद उद्धव ठाकरे ने अपने कैबिनेट की पहली बैठक बुलाई और कई मुद्दों पर बातचीत की.

मंत्रिमंडल की यह पहली बैठक दक्षिण मुंबई के सहयाद्री गेस्ट हाउस में हुई. इस बैठक में गठबंधन के तीनों दलों के दो-दो नेता शामिल हुए. बैठक में शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई, कांग्रेस के मंत्री बालासाहेब थोराट और नितिन राउत, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के मंत्री छगन भुजबल और जयंत पाटिल ने हिस्सा लिया.

बता दें कि पहली बार ठाकरे परिवार का कोई सदस्य महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बना है. उद्धव राज्य में तीनों दलों (शिवसेना, NCP और कांग्रेस के गठबंधन ‘महाराष्ट्र विकास अघाड़ी’ की सरकार का नेतृत्व करने जा रहे हैं.

इस बैठक के बाद ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार राज्य के किसानों के लिए ठोस कदम उठाएगी और ऐसा माहौल बनाने का प्रयास करेगी कि कोई भी भयभीत महसूस नहीं करे. साथ ही मुख्यमंत्री ठाकरे ने इस बात की भी जानकारी दी कि कैबिनेट की बैठक में पहला फैसला छत्रपति शिवाजी महाराज के किले को लेकर किया गया, जिसके मुताबिक शिवाजी के रायगढ़ किले के पुनरूद्धार के लिए 20 करोड़ रुपये की धनराशि को मंजूरी दी गई.

उन्होंने कहा, ‘यदि हम वास्तविकता जानेंगे तो हम अच्छा काम कर सकते हैं. हमने जानकारी मांगी है. किसानों को सिवाए आश्वासन के कुछ नहीं मिला. हम किसानों की ठोस मदद करना चाहते हैं. हम राज्य में ऐसा माहौल सुनिश्चित करना चाहते हैं जहां कोई भी आतंकित महसूस नहीं करेगा.’

TheLogicalNews

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by TheLogicalNews. Publisher: Aajtak