हाथी और गाय के बाद अब बंदर के साथ इन दरिंदों ने दिखाई बर्बरता, वीडियो हुआ वायरल

हैदराबाद : केरल में हाथी के साथ और हिमाचल प्रदेश में गाय के साथ की गई क्रूरता को अभी लोग भूले ही नहीं थे कि तेलंगाना में एक बंदर को बर्बरता पूर्वक मारने का वीडियो सामने आ गया है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि 3 लोगों ने एक बंदर को पेड़ से लटका दिया है और बंदर को काटने के लिए कुत्तों को छोड़ दिया है।

वारंगल जिले का निकला वायरल वीडियो
वायरल वीडियो के चर्चा में आने के बाद जब इस पर जांच पड़ताल शुरू हुई तो पता चला कि यह मामला वारंगल जिले का है। वारंगल जिले के सत्तूपल्ली इलाके में बंदरों के आतंक से प्रभावित लोगों ने यह हरकत की है। बताया जा रहा है कि बंदरों के आतंक से बचने और दूसरे बंदरों को डराने के लिए लोगों ने इस बंदर के गले में रस्सी डालकर उसे इस बेदर्दी से पेड़ से लटका दिया।

फांसी पर लटका बंदर छटपटाता रहा
काफी देर तक बंदर गले में रस्सी डले होने के कारण छटपटाता रहा और फिर तड़प तड़प कर उसकी मौत हो गई। इस वीडियो में तीन युवक नजर आ रहे हैं, जो हाथ में लाठी डंडे लिए हुए हैं। इनको इस तड़पते बंदर पर दया भी नहीं आ रही है। यह घटना 26 जून की बताई जा रही है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद वन विभाग की टीम ने पेड़ पर लटके हुए बंदर की डेडबॉडी बरामद कर लिया है।

दर्ज हुआ मामला
सत्तूपल्ली के फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर इन कटेश्वर यूके ने बताया कि वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। पूरी घटना के बारे में बताया जा रहा है कि 38 वर्षीय आरोपी एस. वेंकटेश्वरराव के बीमार पिता खेत के पास कच्चे मकान में थे। तभी बंदरों का झुंड खाने की तलाश में आ गया। इस पर उन्होंने लाठियों से हमला कर एक बंदर को पकड़ लिया और उसे डराने की कोशिश करने का फैसला किया। इसके बाद मौके पर राजशेखर और गणपति राम के दो और नौजवान भी आ गए और तीनों ने मिलकर घायल बंदर को रस्सी के सहारे पेड़ से लटका दिया।

वीडियो हुआ वायरल
इसी दौरान एक युवक ने इस बंदर के साथ हुई पूरी बर्बरता का वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। वीडियो वायरल हो गया। इस घटना की सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम गांव पहुंची और तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। फिलहाल इन आरोपियों को जमानत पर रिहा कर दिया गया है, लेकिन बताया जा रहा है कि इन आरोपियों को तीन साल की सजा और ₹25,000 जुर्माना हो सकता है।

TheLogicalNews

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by TheLogicalNews. Publisher: Sakshi Samachar Hindi

(Visited 1 times, 1 visits today)
The Logical News

FREE
VIEW
canlı bahis