दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान सामने आए कोरोना के 1,118 मामले, 26 और मरीजों की मौत

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,118 मामले सामने आए और 26 मरीजों की मौत हो गई. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. दिल्ली में अब तक संक्रमण के कुल 1,36,716 मामले सामने आ चुके हैं जिनमें से 1,22,131 मरीज ठीक हो चुके हैं. वर्तमान में 10,596 मरीज उपचाराधीन हैं जिनमें से 5,560 संक्रमितों को घर पर पृथक-वास में रखा गया है.

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी अद्यतन बुलेटिन में बताया गया है कि इस महामारी से अब तक 3,989 लोगों की मौत हो चुकी है. बुलेटिन के अनुसार, पिछले चौबीस घंटे में 5,140 आरटीपीसीआर और 13,014 रैपिड एंटीजेन जांच की जा चुकी हैं.बुलेटिन के अनुसार, अब तक कुल 10,50,939 नमूनों की जांच हो चुकी है.

दिल्ली में सीरोलॉजिकल सर्वे दोबारा शुरू

वहीं दिल्ली में आज से फिर सीरोलॉजिकल सर्वे फिर से शुरू हो गया है. इसके लिए 1 अगस्त से 5 अगस्त के बीच सैम्पल इकठ्ठा किए जाएंगे. दिल्ली सरकार ने अब हर महीने सीरोलॉजिकल सर्वे कराने का फैसला किया है. सर्वे में सारी दिल्ली में हर आयु वर्ग के लोगों की रैंडम सैम्पलिंग की जाएगी.

इससे पहले किए गए सीरोलॉजिकल सर्वे से ये पता चला था कि 23.48% दिल्ली वाले अब तक कोरोना से संक्रमित होकर ठीक हो चुके हैं. NCDC (नेशनल सेंटर फॉर डिसीज़ कंट्रोल) और दिल्ली सरकार द्वारा कराए गए इस सर्वे में 23.48 फीसदी लोगों में कोविड के खिलाफ एंटीबॉडी पाया गया था. 27 जून से 10 जुलाई तक चले सर्वे में कुल 21387 सैम्पल लिए गए थे.

सीरोलॉजिकल सर्वे को लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा,”आज से सीरोलॉजिकल सर्वे शुरू हो रहा है. सीरोलॉजिकल सर्वे में ब्लड का सैम्पल लिया जाता है और चेक किया जाता है कि आपके शरीर मे एंटीबॉडी बनी हैं या नहीं. अगर पॉजिटिव आया तो इसका मतलब है कि कोरोना हुआ था और आप ठीक हो गए और एंटीबॉडीज बन चुकी हैं शरीर में.”

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “पहले सीरोलॉजिकल सर्वे हुआ था तो रिपोर्ट आई कि 24% लोग में एंटीबॉडी बन चुके हैं. तो कई लोगों को लगा कि 24% लोग पॉजिटिव हैं. लेकिन ये गलत है, 24% लोग पॉज़िटिव नहीं हैं बल्कि पॉजिटिव होकर लोग ठीक हो चुके हैं. अब हम देखना चाहते हैं कि 1 या डेढ़ महीने के बाद इसमें कितना फर्क आया है… पिछली बार 24% था, इस बार देखना चाहते हैं कि कितना फर्क आया है.”

भारत में घटते मृत्यु दर को देखते हुए केंद्र सरकार ने वेंटिलेटर के निर्यात की अनुमति देने का फैसला किया

TheLogicalNews

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by TheLogicalNews. Publisher: ABP Live Hindi

(Visited 2 times, 1 visits today)
The Logical News

FREE
VIEW
canlı bahis